World Population Day 2022 : विश्व जनसंख्या दिवस की क्या है इस बार की थीम, जानिए सब कुछ !

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विश्व जनसंख्या दिवस एक वार्षिक कार्यक्रम है, जो हर साल 11 जुलाई को मनाया जाता है, जो वैश्विक जनसंख्या के मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने का प्रयास करता है। यह आयोजन 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की शासी परिषद द्वारा स्थापित किया गया था !

विश्व जनसंख्या दिवस 2022 की थीम क्या है?

थीम 2022 : 8 बिलियन की दुनिया, सभी के लिए एक लचीला भविष्य की ओर – अवसरों का दोहन और सभी के लिए अधिकार और विकल्प सुनिश्चित करना है!

भारत की जनसंख्या : आज़ादी के बाद पहली बार भारत सरकार ने 1951 में जनगणना करवाया था, तभी से प्रत्येक दस वर्षों के अंतराल में जनगणना करवाया जाता रहा है। 1951 से लेकर 2011 तक भारत में 7 बार जनगणना कराया गया है। भारत का अगला जनगणना वर्ष 2021 होना था। वर्तमान समय 2022 में भारत की जनसंख्या 1,404,234,872 (140 करोड़) है, दुनिया के हर 100 आदमी में से 18 लोग भारत में रहते हैं! भारत की जनसंख्या लगातार बढ़ने का रिकॉर्ड रहा है। लेकिन जनसंख्या वृद्धि दर में गिरावट दर्ज किया गया है। 2001 के जनगणना में जनसंख्या वृद्धि दर 21. 5% था, जो घट कर वर्ष 2011 में 17.70% रह गया है। आपको बता दे कि सन् 1951 की जनगणना के अनुसार भारत की कुल जनसंख्या 361,088,090 (36 करोड़) और जनसंख्या वृद्धि दर 13.32% रही थी!

जनगणना 2011 के अनुसार, भारत की कुल जनसंख्या 1,21,01,93,422 रहा था। 2022 के यूनाइटेड नेशन (UN) के डाटा के मुताबिक भारत की जनसंख्या 1,380,004,385 है! भारत में सर्वप्रथम जनगणना 1872 में हुई थी जो ब्रिटिश इंडिया ने करवाया था। जैसा कि आप सभी सोच रहे होंगे 2021 में भारत का जनगणना होना था किंतु कोरोना महामारी के कारण यह कार्य नहीं हो पाया है, उम्मीद है कि इस वर्ष के अंत तक डाटा सरकार के द्वारा जारी हो सकता है !

1951 से लेकर 2022 तक भारत की जनसंख्या का डाटा जानिए.

◾️1951 – 361,088,090 – 13.32%

◾️1961 – 438,936,918 – 21.62%

◾️1971 – 548,160,050 – 24.8%

◾️1981 – 683,329,900 – 25%

◾️1991 – 838,583,988 – 26.9%

◾️2001 – 1,028,737,436 – 21.5%

◾️2011 – 1,210,193,422 – 17.70%

◾️2021 – 1,390,572,936 – ——-

◾️2022 – 1,404,234,872 – (अनुमानित आंकड़े)


नोट – ऊपर प्रदर्शित आंकड़ों में सबसे पहले वर्ष लिखा गया है। उसके बाद जनसंख्या तथा आखिर में जनसंख्या वृद्धि प्रतिशत लिखा गया है।

जानिए विश्व जनसंख्या दिवस से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य !

• परिवार नियोजन के महत्व, लैंगिक समानता, गरीबी, मातृ स्वास्थ्य और मानव अधिकारों जैसे विभिन्न जनसंख्या मुद्दों पर लोगों की जागरूकता बढ़ाने के लिए।

• जनसांख्यिकी का मतलब जनसंख्या का अध्ययन करना होता है !

• 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की शासी परिषद द्वारा स्थापित।

इस बार समाचारों में क्या है खास ?

◾️यूएन ने 2035 में भारत की शहरी आबादी 675 मिलियन होने का अनुमान लगाया है

◾️नाइट फ्रैंक: भारत विश्व स्तर पर अरबपति आबादी में तीसरे स्थान पर है

◾️यूपी जनसंख्या मसौदा विधेयक में दो बच्चों की नीति का प्रस्ताव है

◾️एशिया में भारत की जनसंख्या सूचकांक रैंकिंग में दूसरी रैंक है !

◾️UNPFA: संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष

◾️ संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी)
• स्थापना वर्ष – 1965
• मुख्यालय – न्यूयॉर्क, यूएसए
• डीजी – अचिम स्टेनर

Leave a Comment

Your email address will not be published.