UNIVERSITY

Allahabad university : इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पोइट्री क्लब की पत्रिका का हुआ भव्य विमोचन

Rate this post

 इलाहाबाद विश्वविद्यालय सदियों से ही साहित्य के उद्भट विद्वानों की तपोभूमि रहा है। इस विश्वविद्यालय के प्रांगण में ही निराला,प्रेमचंद, रामस्वरूप चतुर्वेदी,हरिवंश राय बच्चन जैसे अनेकों विद्वानों ने अपनी लेखनी को अमर किया है। इसी क्रम को आगे बनाये रखने के लिये एवं आधुनिक समय के लेखक व कवियों की लेखनी को एक सफल रूप प्रदान करने के लिये इलाहाबाद विश्विद्यालय के हिंदी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर विनम्र सेन सिंह, डॉ सुजीत कुमार सिंह एवं डॉ चितरंजन कुमार की अगुवाई में एयू पोएट्री क्लब नाम से एक क्लब का निर्माण किया गया है। जिसमें कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय के तमाम छात्र छात्राओं की लेखनी को एक नया आयाम प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है।

इस क्लब ने “द पोइट्री क्लब” शीर्षक से एक त्रैमासिक पत्रिका का सम्पादन कार्य भी प्रारंभ किया है। जिसमे पोइट्री क्लब के समस्त सदस्यों की रचनाओं को प्रकाशित किया जाएगा। इस पत्रिका के प्रथम अंक का विमोचन आज दिनांक 14 अप्रैल को बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की जयंती के पावन अवसर पर “राष्ट्र को समर्पित विशेषांक” के रूप में हिन्दुस्तानी अकादमी में किया गया।

इस पत्रिका के प्रधान संपादक डॉ सुजीत कुमार सिंह, संपादक डॉ विनम्र सेन सिंह एवं सह सम्पादक डॉ चितरंजन कुमार जी हैं। पत्रिका का कवर चित्र स्नेहा यादव के द्वारा डिजाइन किया गया है एवं टंकण व ग्राफिक्स का श्रेय केशव विवेकी को जाता है। पत्रिका का प्रकाशक प्रमथ्यू प्रकाशन है।

कुल 40 पृष्ठ की इस पत्रिका में राष्ट्र पर आधारित रचनाओं को संकलित किया गया है।

पत्रिका के विमोचन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक डॉ पीयूष जी,मुख्य वक्ता के तौर पर उत्तर प्रदेश सरकार के शासकीय अधिवक्ता श्री शिव कुमार पाल जी की गरिमामयी उपस्थिति रही। साथ में पोइट्री क्लब परिवार के सभी सदस्य भी इस अवसर पर उपस्थित रहें।

कार्यक्रम का संचालन करते अनुभव दुबे

इस कार्यक्रम का संचालन अनुभव दूबे (छात्र स्नातक द्वितीय वर्ष) कर रहें थें।

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन के साथ हुई। उसके उपरान्त दीप मंत्र,सरस्वती वन्दना एवं स्वागत गीत का कार्यक्रम क्रमशः स्नेहा सिंह, संदीप सोनी एवं आयुषी त्रिपाठी द्वारा किया गया। उसके बाद स्वागत वक्तव्य के लिए संचालन अनुभव दूबे ने पत्रिका के सम्पादक,छात्रों के चहेते और हिन्दी एवं आधुनिक भारतीय भाषा विभाग इलाहाबाद विश्विद्यालय के सहायक प्राचार्य डॉ. विनम्र सेन सिंह को आमंत्रित किया। डॉ. विनम्र ने मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता का औपचारिक स्वागत करते हुए एवं अन्य सभी सदस्यों का धन्यवाद देते हुए आगे के क्रम में डॉ. अम्बेडकर को नमन करते हुए यह बताया कि कैसे अम्बेडकर दलितों,शोषितों,पीड़ितों और वंचितों को उठाने का कार्य किया; उन्हें न्याय दिलाने का कार्य किया। सामाजिक समरसता के लिए एक लम्बी लड़ाई लड़ी। अम्बेडकर कैसे जीवन में अनेकानेक विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए  धर्म एवं संस्कृति को जोड़कर रखा। अन्त में डॉ. विनम्र ‘AU पोएट्री क्लब’ के उद्देश्य बतातें हुए कहते हैं कि आज देश के अनेक विश्विद्यालयों में छात्रों को संस्कृति एवं सभ्यता से काटकर उन्हें आधुनिकता की भट्टी में झोंका जा रहा है। इन उठापटक की परिस्थितियों में भी इलाहाबाद विश्विद्यालय के प्राध्यापक एवं छात्र यह प्रयास कर रहे हैं कि इलाहाबाद विश्विद्यालय में एक ऐसी सांस्कृतिक धरोहर बने जहां छात्रों का सम्मेलन खड़ा हो  जो समाज या देश के लिए राष्ट्र के विकास में भागीदार बने एवं संस्कृति में अपना स्थापित कर सके।

फिर मुख्य अतिथि, मुख्य वक्ता एवं समस्त सहायक प्राचार्यों के द्वारा सम्मिलित रूप से त्रैमासिक पत्रिका का विमोचन कर उसके प्रथम अंक “राष्ट्रदेश विशेषांक” को पाठकों के समस्त प्रस्तुत किया गया। इसमे विश्विद्यालयों के कुल  लगभग 65 विद्यार्थियों की कविताओं को संकलित किया गया है।अगले क्रम में विश्विद्यालय के हिन्दी विभाग के सहायक प्राचार्य डॉ. वीरेंद्र कुमार मीणा जी ने डॉ. अम्बेडकर को याद किया एवं उनके अतुलनीय कार्यों को बताया। फिर मुख्य वक्ता श्री शिव कुमार पाल ने अम्बेडकर को याद करते हुए पहले उन्हें नमन किया फिर उनके द्वारा विधवा विवाह, बहु विवाह एवं छुआ छूत जैसी विसंगतियों से अम्बेडकर ने कैसे छुटकारा पाने का प्रयास किया इस पर चर्चा की। शिवकुमार जी आगे के क्रम में पोएट्री क्लब के सभी सदस्यों को बधाई देते हुए डॉ. विनम्र सेन सिंह समेत ‘AU पोएट्री क्लब’ के सभी सदस्यों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं। और अंत में इसकी सार्थकता पर बात की एवं इसके उद्देश्यों को सराहा। फिर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. पीयूष जी को उनके आशीष वचन के लिए संचालक ने आमंत्रित किया। डॉ. पीयूष भी पहले अम्बेडकर जी को याद करते हुए उनके द्वारा संविधान निर्माण में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने के कार्यों हेतु उन्हें अद्वितीय बताया। आगे के क्रम में वे हमारी संस्कृतियों एवं परम्पराओ की चर्चा करते हुए अम्बेडकर के बौद्ध धर्म अपनाने का ज़िक्र किया। और अन्त में अम्बेडकर के अन्य उपलब्धियों एवं उनके संघर्षों को याद किया। डॉ. पीयूष ने भी पोएट्री क्लब की पत्रिका विमोचन के लिए डॉ. विनम्र सेन सिंह, डॉ. सुजीत कुमार सिंह एवं डॉ. चितरंजन जी को बधाई दी और बच्चों को नित आगे बढ़ते रहने का आशीष दिया। कार्यक्रम के अन्त में विश्विद्यालय के छात्र कृष्ण कुमार बदर ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

सबसे पहले सुचना कैसे पायें 

आपके काम की हर जरूरी खबर और उसकी सुचना उपलब्ध है हमारे इस वेबसाइट पर। चाहे हो रोजगार से जुड़ी खबर या हो योजनाओं संबंधी जानकारी या स्कालरशिप की हर अपडेट और हर खबर आपको मिलेगी हमारे इस वेबसाइट पर। अगर आप चाहते हैं कि जब भी हम कोई खबर प्रकाशित करें तो आपको उसका नोटिफिकेशन मिले तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं जिसका लिंक इस पोस्ट के नीचे दिया गया है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं और हर अपडेट का नोटिफिकेशन सबसे तेज और पहले प्राप्त कर सकते हैं।

   

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *