Kushinagar Tragedy: नहीं रही बहादुर बिटिया पूजा, अंतिम सांस तक लड़कर 5 लोगों को बचाया था जिंदा..

 कुशीनगर. उत्तर प्रदेश के कुशीनगर (Kushinagar News) में बुधवार की शाम दर्दनाक हादसा हुआ. शादी समारोह के जश्न के दौरान कुएं का स्लैब गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई. इस हादसे में मरने वाली 22 वर्ष की पूजा यादव भी शामिल थी. बहादुर बिटिया अब नहीं रही, लेकिन रात के दर्दनाक हादसे के दौरान दिखाई गई उसकी हिम्मत की बातें हर ओर हो रही हैं. वह सेना भर्ती की तैयारी कर रही थी. सेना में चयन से पहले वह जिंदगी की जंग तो हार गई, लेकिन उसकी जांबाजी से पांच लोगों की जान बच गई. इसमें दो बच्चे भी हैं.

जिस वक्त हादसा हुआ पूजा के साथ डूबने वालों में उसकी मां भी थी. उसने अपनी मां लीलावती को बचाया. इसके बाद अनूप, उपेंद्र एक-एक कर पांच अन्य लोगों को बचाया. छठे की जान बचाते वक्त वह खुद कुआं में डूब गई. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पूजा को धुन सवार थी कि वह सभी को बचाएगी. वह लखनऊ में रहकर सेना में भर्ती की तैयारी कर रही थी. बता दें कि तहसीलदार शाही महाविद्यालय सिंगहा में पूजा बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा थी. पिता बलवंत यादव जम्मू कश्मीर में आर्मी में हवलदार पद पर तैनात हैं. उसके दो जुड़वां भाई आदित्य और उत्कर्ष हैं. क्लास नौ में पढ़ते हैं. पूरा परिवार शिक्षित है. पूजा खुद की तरह ही अपने भाइयों को भी सेना, पुलिस में भर्ती करवाना चाहती थी.

content cr

Leave a Comment

Your email address will not be published.