CBSE BOARD TERM 1 RESULTS UPDATE 2022: जल्द जारी हो सकती है सीबीएसई टर्म वन रिजल्ट……… देखिए अपना रिजल्ट cbseresults.nic.in पर…..

CBSE BOARDTERM 1 RESULTS UPDATE 2022: जल्द जारी हो सकती है सीबीएसई टर्म वन रिजल्ट……… देखिए अपना रिजल्ट cbseresults.nic.in पर…..

सीबीएसई(CBSE) का रिजल्ट जल्द हो सकता है जारी…..cbseresults.nic.in
जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इस महामारी के दौरान हमारी शिक्षा प्रणाली बहुत पीछे चली गई है…
लेकिन इसके बावजूद तमाम कोशिशें की गई कि किस तरह बच्चों को शिक्षा के मुख्य धारा से जोड़ा रखा जाए।।
आपको बता दें कि इस साल आयोजित हो रही बोर्ड(MATRIC)और इंटर(INTER) की परीक्षाएं दो भाग में कराए जा रहे हैं ताकि बच्चों को महामारी में किसी तरह की कोई परेशानी ना हो और वह अपने नियमित सिलेबस का अध्ययन कर अच्छे से परीक्षा दे पाए….
आपको बता दें कि हाल ही में आईसीएसई (ICSE)10 और आईएससी(ISC) 12 सेमेस्टर 1 का रिजल्ट घोषित कर दिया जिसके बाद यह कयास लगाए जा रहे हैं कि जल्द ही सीबीएसई (CBSE)बोर्ड भी अपने रिजल्ट घोषित करेगा.
जानिए, सीबीएसई रिजल्ट से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातें
पहला सीबीएसई(CBSE) के फाइनल रिजल्ट मैडम वन के रिजल्ट का न्यूनतम 50% वेटेज होगा और कोई भी छात्र कक्षा 10 और कक्षा 12 की टीम एक परीक्षा में फेल नहीं होगा।
दूसरी जो सबसे महत्वपूर्ण जानकारी निकल कर आ रही है कि स्कूलों द्वारा छात्रों को दिए जाने वाले विभिन्न विषयों में आंतरिक मूल्यांकन के अंक भी टर्म 1 अंक में शामिल किए जाएंगे।
इस बार अनुपस्थित रहने वालों को कोई और शतक नहीं दिया जाएगा हालांकि सीबीएसई अंतिम स्कोर कार्ड की गणना तय करेगा।
छात्रों को पहले फेस की परीक्षा के लिए मार्कशीट नहीं दी जाएगी उन्हें दूसरी फेस की परीक्षा के बाद फाइनल मार्कशीट दी जाएगी।
ऐसे कर पाएंगे अपने रिजल्ट को चेक…..
सभी उम्मीदवार सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जाएं.
वेबसाइट पर दिए गए रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करें.
इसके बाद वह अपना रोल(roll no) नंबर, स्कूल नंबर(school no) और जन्मतिथि (date of birth)सबमिट करें।
जैसे ही छात्र अपना रोल नंबर स्कूल नंबर और जन्मतिथि सम्मिट करेंगे वैसे ही उनका रिजल्ट स्क्रीन पर आ जाएगा।
आपको बता दें कि पिछले साल का रिजल्ट कक्षा 10 में 99.4 % छात्र पास हुए थे वही कक्षा 12 में 99.37 फ़ीसदी छात्रों ने परीक्षा को पास किया था।
पिछले साल कोरोनावायरस के प्रकोप के कारण छात्रों की बोर्ड की परीक्षा नहीं हो सकी और छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर पास घोषित किया गया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.