election

VIDHAN SABHA ELECTIONS 2022: चुनाव के समय क्यों नहीं बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दाम…… जानिए हमारे साथ…

Rate this post

VIDHAN SABHA ELECTIONS 2022: चुनाव के समय क्यों नहीं बढ़ रहे पेट्रोल और डीजल के दाम…… जानिए हमारे साथ…

जैसा कि आप सभी को मालूम है कि इस वक्त पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रही है…
हम सब यह गौर करते हैं की जब जब चुनाव समीप होते हैं तब पेट्रोल डीजल(PETROL-DIESEL PRICE HIKE) के दामों में कोई वृद्धि नहीं होती है या तो उसमें कुछ कमी लाई जाती है या तो वह दाम स्थिर रहते हैं….
आखिर इसका कारण क्या है ?जानिए हमारे साथ…..
सरकार ने संसद को बताया कि 1 दिसंबर 2021 से भारत को $18 ज्यादा देकर कच्चा तेल खरीदना पड़ रहा है तो अंतरराष्ट्रीय बाजार(INTERNATIONAL MARKET) में पेट्रोल (PETROL)28.73 % डीजल(DIESEL) महंगा हो चुका है।।
आपको बता दें कि आज की तारीख में दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 95.41 ₹प्रति लीटर रुपए चुकाने पड़ते हैं।।
वही मुंबई वासियों को पेट्रोल के लिए 109.98 रुपए तो डीजल के लिए 94.14 ₹ प्रति लीटर चुकाना पड़ रहा है।।
अगर बात करें चेन्नई की तो चेन्नई में पेट्रोल की कीमत है 101.40रुपए है वहीं डीजल की कीमत 91.43 रुपए है।
यह तो आज के दाम है लेकिन आप सोचिए अगर चुनाव के खत्म होने के बाद सरकारी तेल कंपनियों ने अपने नुकसान की भरपाई के लिए पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाना शुरू किया तो देश में महंगाई का क्या आलम होगा।
इस खबर के माध्यम से मैं तमाम लोगों को यह बताना चाहूंगा कि देश की जनता को पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव का शुक्रगुजार होना चाहिए वरना उन्हें अपनी गाड़ी में पेट्रोल डीजल डलवाने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता ।
आपको बता दें कि अगर राज्य में विधानसभा चुनाव ना होते हैं तो आपको मौजूदा कीमतों के मुकाबले पेट्रोल डीजल के लिए भारी कीमत चुकानी पड़ती है।
1 दिसंबर 2021 से लेकर 31 जनवरी 2022 के बीच कच्चा तेल 18.09 डॉलर प्रति बैरल यानी 25.36 फ़ीसदी से ज्यादा महंगा हो चुका है.
किस के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल 28.73 फ़ीसदी तो डीजल 32.77 फ़ीसदी महंगा हो चुका है।
इससे यह साफ मालूम चलता है कि किस तरह सरकार लोग साथ छल कर रही है….
जैसे ही चुनाव इन राज्यों में खत्म हो जाएंगे आप पाएंगे कि अचानक पेट्रोल और डीजल के दामों में वृद्धि हो जाएगी क्योंकि तब तक चुनाव समाप्त हो गए होंगे।
आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी को नुकसान अथवा हार ना झेलना पड़े इसके लिए सरकार ने चुप्पी साधी हुई है…
तमाम खबरों के लिए हम से जुड़े……

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *