RRB NTPC RESULT: बिहार और यूपी में एनटीपीसी परीक्षा परिणाम को लेकर लगातार प्रदर्शन जारी, प्रयागराज में छात्रों पर जबरन किया गया लाठीचार्ज चार्ज I

     बिहार व यूपी में प्रदर्शन से बैकफुट पर रेलवे!

रेलवे बोर्ड द्वारा जारी रिजल्ट से नाखुश होकर छात्रों ने मंगलवार को प्रयागराज स्टेशन पर कानपुर इंटरसिटी रेल को रोक दिया! मंगलवार दोपहर करीब 1:30 बजे छात्रों ने मीटिंग बुलाई और लगभग 2 बजे भारी संख्या में भीड़ इकट्ठा हो गई जिससे नारेबाजी करते हुए छात्रों ने रेलवे ट्रैक पर जाम लगा दिया, और ट्रेन रोक दी, ट्रेन रोके जाने पर इसकी खबर पाकर पुलिस बल अधिकारी फोर्स के साथ वहाँ पहुंचे तथा छात्रों को जबरन ट्रेन से हटाने के विरोध पर पुलिस बल ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया जिससे पत्थर बाजी भी हुई! 
रेलवे ट्रैक रोके जाने की सजा पुलिस ने बेरोजगार छात्रों को बेरहमी से पीटकर दी! आंदोलन कारी छात्रों को दौड़ा कर सरेआम पीटा, खाकी का रूतबा दिखाते हुए पुलिस ने कई लाॅजों में घुस कर बंदूक के कुंदों से दरवाजे तोडकर उन पर प्रतिघात किया! 
कई लाजों में घुस कर पुलिस ने सामानों को तोड़ फोड़ कर अपना गुस्सा उतारा! पुलिस बल की टीमों ने छोटा बघाडा, बड़ा बघाडा, सलोरी, प्रयाग, कर्नलगंज ,कटरा लल्ला चुंगी आदि लाॅजों में घुस कर छात्रों को पीटा और तांडव मचाया! 
छात्रों की सरकार व रेलवे बोर्ड से मांगे
परिक्षा परिणाम नये सिरे से संबोधित किया जाना चाहिए! 
जो उच्च मेरिट वाले अभ्यर्थी हैं वे सभी स्लाॅट में चयनित हो गयें हैं इसमें संसोधन होने चाहिए! 
उम्मीदवारों का एक बड़ी संख्या सभी स्लाॅट में ओवरलैप कैसे हो गई! 
सीबीटी टेस्ट में 20 गुना अभ्यर्थियों का जोन वाइज क्वालीफिकेशन होना चाहिए! 
पूर्व में नोटिफिकेशन जारी किया गया था कि एक ही परीक्षा होगा किंतु बाद में दो चरणों का नोटिफिकेशन जारी किया गया! 
बिहार में परीक्षा परिणाम से नाखुश छात्रों ने कई ट्रेनों की बोगियों को आग के हवाले कर दिया! एनटीपीसी स्कैम का यह मुद्दा सर्वप्रथम बिहार राज्य से उजागर हुआ है! 
आइये जाने क्या है इस मामले की असली जड़? 
RRB NTPC द्वारा 2019 में इसके लिए देश भर में 35000 पदों पर नोटिफिकेशन जारी किया गया था जिसके अंतर्गत सीबीटी-1 और सीबीटी-2 दो चरणों में क्रमानुसार 8 व 20 गुना अभ्यर्थियों को क्वालीफाई किया जाना प्रस्ताव जारी था! जिसे आवश्यकतानुसार घटाया और बढाया भी जा सकता था! इस भर्ती प्रक्रिया में विभिन्न ग्रेड की 13 भर्तियां शामिल हैं, जिसको 7 स्टेप में बांटा गया है! इस भर्ती प्रक्रिया में अभ्यर्थियों के वास्तविक संख्या 20 गुना के बजाय 4-5 गुना ही है! जिससे अभ्यर्थी निराश व हताश होकर प्रदर्शन और नारेबाज़ी कर कर रहे हैं जो लगातार जारी है!
एनटीपीसी के प्रथम चरण की परीक्षा के रिजल्ट में 80643 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया है, जिसके अनुसार ये सभी सफल अभ्यर्थी सीबीटी-2 अर्थात कंप्यूटर आधारित परीक्षा में शामिल हो सकेंगे जबकि इसका सफल आयोजन 14-18 फरवरी 2022 के मध्य किया जाना है!

Leave a Comment

Your email address will not be published.