प्रयागराज: इविवि में सेमेस्टर परीक्षाओं के कार्यक्रम का शेड्यूल जारी न किए जाने से परेशान हैं छात्र व छात्राएँ I

छात्रों ने सेमेस्टर व वार्षिक परीक्षा शेड्यूल जारी किए जाने की परीक्षा नियंत्रक महोदय से की मांग I

इविवि कोविड ब्रेक के कारण 23 जनवरी तक बंद है! पहले यह ब्रेक 16 जनवरी तक प्रस्तावित था किंतु बाद में 17 जनवरी से 21 जनवरी के लिए पुनः बढ़ा दिया गया, और शनिवार और रविवार को विश्वविद्यालय में साप्ताहिक अवकाश की छुट्टी रहती है जिससे यह 23 जनवरी तक बंद है और 24 जनवरी को खुलने की आशा हैI
इलाहाबाद विश्वविद्यालय में सेमेस्टर परीक्षाओं को लेकर अभी भी स्थिति साफ नहीं है!इसमें यह भी स्पष्ट नहीं है कि परीक्षाएं आफलाइन मोड में संचालित होंगी या आनलाइन! इसके बारे में स्पष्टीकरण नहीं जारी किया गया है जिससे छात्र-छात्राओं के मन में नाराजगी की स्थिति बना हुआ है! पूर्व में जारी कार्यक्रम के अनुसार फरवरी में परास्नातक विषम सेमेस्टर की परीक्षाएं कराई जानी हैं, किंतु अभी परीक्षाओं के समय-सारणी जारी न होने के कारण विद्यार्थियों के मन में संकोच की स्थिति बना हुआ है I
छात्र-छात्राओं ने परीक्षा नियंत्रक महोदय से मांग की है कि परीक्षाओं को लेकर शीघ्र अति शीघ्र स्थिति स्पष्ट की जाए जिससे वे सभी उपयुक्त समय सारणी के तहत परीक्षा की तैयारी कर सकें! छात्र-छात्राओं ने इस संदर्भ में मांग करते हुए साथ में यह भी कहा कि जब कक्षाओं का संचालन आनलाइन मोड़ में किया जा रहा है तो परीक्षाएं भी आनलाइन मोड़ में कराई जानी चाहिए I
इविवि के छात्र वैभव सिंह (एनएसयूआई के कार्यकारी अध्यक्ष) ने परीक्षा नियंत्रक व कुलपति महोदया को पत्र लिखा है कि वार्षिक व सेमेस्टर परीक्षाओं का माध्यम जल्द सुनिश्चित किया जाए एवं स्थिति सप्षट कर दिया जाए, जिससे छात्र-छात्राएँ उपयुक्त सारणी के अनुसार परीक्षा को लिए अपनी तैयारी कर सकें! वहीं छात्र संघ बहाली को लेकर लगभग 545 दिनों से जारी आंदोलन की अगुवाई कर रहे छात्र नेता अजय सम्राट यादव ने भी सेमेस्टर व वार्षिक परीक्षा को लेकर परीक्षा शेड्यूल व कार्यक्रम जल्द से जल्द जारी किए जाने की मांग की है I
वैभव सिंह ने अपने पत्र में लिखा है कि वर्तमान स्थितियों और हालात के मद्देनजर कोविड-19 के प्रकोप के कारण इलाहाबाद विश्वविद्यालय बंद रखा गया है! तथा छात्रों के मन में वार्षिक व सेमेस्टर परीक्षा को लेकर संशय बना हुआ है इसलिए आगामी परीक्षाओं का माध्यम की घोषणा की जाए साथ ही साथ परीक्षाओं का शेड्यूल भी जारी कर दिया जाना चाहिए! जिससे सभी छात्र व छात्राएँ अपने पठन-पाठन की प्रक्रिया पर ध्यान आकर्षित कर सकें और वार्षिक व सेमेस्टर परीक्षाओं की तैयारी आसानी से भी कर सकें I

Leave a Comment

Your email address will not be published.